Parivar Pehchan Patra । हरियाणा परिवार पहचान पत्र

parivar pehchan patra :- दोस्तों parivar pehchan patra एक ऐसा कार्ड है जिसकी मदद से राज्य सरकार अपनी राज्य के परिवारों की पहचान कर सके। जैसा की नाम से ही पता चल रहा है parivar pehchan patra यानि की परिवार की पहचान करने वाला पत्र(कार्ड). parivar pehchan patra (पीपीपी) का उद्देश्य राज्य के सभी परिवारों का प्रामाणिक, सत्यापित और विश्वसनीय डेटा तैयार करना है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

parivar pehchan patra (पीपीपी) हरियाणा के हर परिवार की पहचान करता है। parivar pehchan patra haryana के परिवारो का डाटा डिजिटल रूप से प्रदान करता है। हर परिवार को 8 अंको की यूनिक आईडी दी जाती है, जिसको फॅमिली आईडी या parivar pehchan patra id के नाम से जाना जाता है।

parivar pehchan patra id की शुरुवात सबसे पहले हरियाणा राज्य सरकार द्वारा की गयी थी। haryan parivar pehchan patra की मदद से हरियाणा के लोगो को बहुत फायदा मिला है। परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) या फॅमिली आईडी की मदद से हरियाणा के लोग घर बैठे बैठे सभी सरकारी सुविधाओं का लाभ ले सकते है। अगर आपके परिवार पहचान पत्र में जन्म तिथि वेरीफाई नहीं होगी तो आप सरकारी योजनाओ का लाभ नहीं ले पाएंगे।

परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) को फॅमिली आईडी के नाम से भी जाना जाता है। हरियाणा राज्य के लोग parivar pehchan patra को सरकारी दस्तावेज की तरह इस्तमाल कर सकते है। इस आर्टिकल में आप परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) या फॅमिली आईडी से सम्बंधित सारी जानकारी प्राप्त कर सकते है।

परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) या फॅमिली आईडी

parivar pehchan patra (पीपीपी) या फॅमिली आईडी की शुरुवात 2020 में हुई थी। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा 4 जुलाई, 2020 को पंचकूला में parivar pehchan patra शुरू करने की घोषणा की गयी थी। परिवार पहचान पत्र हरियाणा राज्य के मूल निवासी लोगो का भी बनता है। सभी सरकारी योजनाओ का लाभ लेने के लिए लोगो को अलग अलग दस्तावेज देने की जरूरत नहीं है सिर्फ परिवार पहचान पत्र से ही सभी सरकारी योजनाओ का लाभ मिलेगा।

योजनापरिवार पहचान पत्र
किस राज्य में शुरू की गयीहरियाणा राज्य में
किसके द्वारा शुर की गईमुख्यमंत्री द्वारा
कभ शुरू की गयी4 जुलाई, 2020 को
लाभार्थीहरियाणा राज्य के सभी परिवार

अगर मैं बात करूं परिवार पहचान पत्र की तो हरियाणा में परिवार पहचान पत्र ( फैमिली आईडी ) बनवाना बहुत जरूरी है। स्कूल में एडमिशन लेना हो, कोई सरकारी काम करवाना हो या फिर किसी सरकारी योजना का लाभ लेना हो हर जगह फैमिली आईडी की जरूरत पड़ेगी। इसलिए अगर आप हरियाणा में रहते है तो आपके पास फैमिली आईडी होना बहुत जरूरी है।

parivar pehchan patra फैमिली आईडी (पीपीपी) के क्या क्या लाभ मिलते है।

अगर आपके पास फैमिली आईडी है तो आपको हर काम में प्राधमिकता दी जाएगी। चलिए जानते है की अगर आपको पास फैमिली आईडी है या आप फैमिली आईडी बनवाने है तो आपको क्या क्या लाभ मिलेंगे।

  • जिस परिवार के पास फैमिली आईडी होगी उनको सरकारी योजनाओं और सरकारी सेवाओं में प्राथमिकता दी जाएगी।
  • अगर आपके पास फैमिली आईडी होगी तो आपके बच्चो का किस भी सरकारी स्कूल, कॉलेज में आसानी से एडमिशन मिल जाएगा।
  • परिवार पहचान पत्र होने से हर सरकारी योजनाओं में पारदर्शिता रहेगी जिससे घूसखोरी और भ्रष्टाचार कम होगा।
  • फैमिली आईडी की मदद से हरियाणा के सभी लोगो का डाटा ऑनलाइन रहेगा, जरूरत पड़ने पर लोग अपना डाटा कही भी चेक कर सकते है।
  • फैमिली आईडी बनने के बाद सरकार के पास हरियाणा वासियों का डाटा स्टोर रहेगा और हरियाणा सरकार उस डाटा के आधार पर जिनको सरकारी योजनाओं और सेवाओं की ज्यादा जरूरत है उनको प्राथमिकता दी जाएगी।
  • अगर आप कोई सरकारी फॉर्म भरते है या सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए फॉर्म भरते है तो बस आपको अपनी फैमिली आईडी नंबर डालना है आपकी डिटेल अपने आप फील हो जाएगी।
  • अगर आपके पास फैमिली आईडी है तो आपका राशन कार्ड भी आसानी से बन जायेगा।

MeraParivar Haryana Identity Card

  1. हरियाणा परिवार पहचान पत्र में हर परिवार को एक 8 अंको की यूनिक आईडी नंबर मिलता है।
  2. परिवार पेचान पात्र में परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी होती है।
  3. फॅमिली आईडी में परिवार के मुखिया का नाम सबसे ऊपर होता है।
  4. हरियाणा में सभी सरकारी योजनाओ का लाभ लेने के लिए “Mera Parivar Meri Pehchan Patra” की जरूरत पड़ेगी।

परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए क्या क्या दस्तावेज चाहिए।

अगर आप भी परिवार पहचान पत्र बनवाने है तो आपको कुछ दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी। चाहिए जानते है की फॅमिली आईडी बनवाने के लिए क्या क्या दस्तावेज चाहिए।

  • आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड
  • बैंक खाता
  • जन्म प्रणाम पत्र

परिवार पहचान पत्र बनवाने के लिए कितनी फ़ीस देनी पड़ती है।

सरकार के द्वारा परिवार पहचान पत्र बनाने का कोई भी शुल्क नहीं लिया जाता। पर अगर आप अपने नजदीकी जान सेवा केंद्र जाकर बनवाने है तो उनके द्वारा 100 रु फ़ीस ली जाती है।

परिवार पहचान पत्र ऑनलाइन कैसे बनाये

अगर आपका परिवार पहचान पत्र नहीं बना हुआ है तो आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। अगर आपको परिवार पहचान पत्र ऑनलाइन आवेदन करने की जानकारी नहीं है तो निचे दिए गए सभी स्टेप्स को ध्यान से पढ़े। यहाँ हमने परिवार पहचान पत्र ऑनलाइन आवेदन कैसे करे इस बारे में सारी जानकरी दी है।

परिवार पहचना पत्र ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको फॅमिली आईडी की ऑफिसियल वेबसाइट “meraparivar.haryana.gov.in” पर जाना होगा

  • यहाँ पर आपको  “citizen corner” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है। अब यहाँ पर आपको 3 ऑप्शन दिखाई देंगे आपको “update Family Details” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद आपसे पूछा जाएगा की क्या आपको परिवार पहचान पत्र नंबर पता है यहाँ पर आपको No पर क्लिक करना है और अपना आधार कार्ड नंबर लिखना है |
  • अब आपको “Register New Family” का ऑप्शन दिखाई देगा आपको उस पर क्लिक करना है।
  • अब आपसे जो भी जानकरी पूछी जाये तो सही सही भरनी है जैसे अपना नाम , एड्रेस , माता- पिता का नाम आदि और सबमिट कर देना है।
  • अब आपके पास Add New Member का ऑप्शन आएगा।
  • आपको अपने परिवार के सभी सदस्यों की जानकरी इसी तरह भरनी है।
  • सभी सदस्यों के नाम अड़ करने के बाद आपको अपनी फॅमिली आईडी का प्रिंट निकाल लेना है।
  • आप आपको उस प्रिंट कॉपी पर फॅमिली आईडी में जो मुखिया बनाया है उसके हस्ताक्षर करवाने है।
  • हस्ताक्षर करने के बाद आपको वो प्रिंट कॉपी स्कैन करके अपलोड करनी है।

दोस्तों मैं उम्मीद करता हूँ की आपको parivar pehchan patra के बारे में सारी जानकारी मिल गयी होगी। अगर आपको फॅमिली आईडी से संबधित कुछ पूछना है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Leave a Comment